भारत की नदियां – 30+ नदियों की सूची

भारत की नदियां : भारत में नदियों का पौराणिक महत्व है भारत में नदियों की पूजा भी की जाती है जैसे गंगा।

गंगा नदी का पानी अमृत के सामान माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इस पानी में कभी भी कीड़े नहीं पड़ते।

विश्व की सबसे प्राचीन सभ्यता सिंधु घाटी सभ्यता को माना जाता है और वह भी सिंधु नदी के किनारे ही विकसित हुई थी।

भारत की नदियों को चार भागों में वर्गीकृत किया जा सकता है जैसे :-

  • हिमालय पर्वत से निकलने वाली नदियाँ
  • दक्षिणी भारत से निकलने वाली नदियाँ
  • अंतर्देशीय नदियाँ
  • तटवर्ती नदियाँ

भारत की नदियां तथा उदगम स्थल

नदी का नाम उदगम स्थल मुहाना/संगम नदी की लंबाई
सतलज राकस ताल चिनाब नदी 1500 किलोमीटर
रावी रोहतांग दर्रे के समीप चिनाब नदी 725 किलोमीटर
झेलम शेषनाग झील के समीप चिनाव नदी 724 किलोमीटर
सिंधु तिब्बत में अरब सागर 2880 किलोमीटर
व्यास व्यास कुंड से सतलज नदी 470 किलोमीटर
गंगा गौमुख हिमानी बंगाल की खाड़ी 2525 किलोमीटर
यमुना यमुनोत्री हिमानी प्रयाग में गंगा नदी 1375 किलोमीटर
चंबल जानापाव पहाड़ी से यमुना नदी 995 किलोमीटर
रामगंगा हिमालय श्रेणी का दक्षिणी भाग गंगा नदी 696 किलोमीटर
शारदा (काली गंगा) हिमनद घाघरा नदी 602 किलोमीटर
घाघरा नदी नेपाल से गंगा नदी 1080 किलोमीटर
गंडक नेपाल गंगा नदी भारत में 425 किलोमीटर
कोसी गोसाईथान चोटी के उत्तर में गंगा नदी 730 किलोमीटर
सोन अमरकंटक की पहाड़ियां गंगा नदी 780 किलोमीटर
ब्रह्मपुत्र हिमानी तल से बंगाल की खाड़ी 2900 किलोमीटर
नर्मदा अमरकंटक स्थान से बंगाल की खाड़ी 1312 किलोमीटर
ताप्ती मुलताई नगर खंभात की खाड़ी 724 किलोमीटर
महानदी रायपुर जिले से बंगाल की खाड़ी 815 किलोमीटर
माही मध्य प्रदेश धार जिला से खंभात की खाड़ी 585 किलोमीटर
लूनी नोट पहाड़ अरावली पर्वत कच्छ 320 किलोमीटर
सोम उदयपुर जिले से माही नदी
साबरमती अरावली पर्वत पर स्थित जय समुद्र जी से खंभात की खाड़ी 371 किलोमीटर
बनास खमनोर की पहाड़ी चंबल 480 किलोमीटर
बाणगंगा बैराठ की पहाड़ी यमुना 378 किलोमीटर
कृष्णा महाबलेश्वर के समीप बंगाल की खाड़ी 1401 किलोमीटर
गोदावरी नासिक जिले से बंगाल 1465 किलोमीटर
कावेरी कर्नाटक के जिले से बंगाल की खाड़ी 800 किलोमीटर
तुंगभद्रा कर्नाटक कृष्णा नदी 331 किलोमीटर
पेन्नार नंदीपुर पहाड़ी कर्नाटक बंगाल की खाड़ी 597 किलोमीटर
पेरियार पेरियार झील

भारत के राज्य तथा राजधानी

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook
error: Content is protected !!