Affiliate मार्केटिंग क्या है

Affiliate मार्केटिंग क्या है : Affiliate मार्केटिंग ऐसा तरीका है जिसके द्वारा कोई भी व्यक्ति अपने ब्लॉग तथा वेबसाइट के द्वारा मार्केट में मौजूद कंपनी के प्रोडक्ट को प्रमोट करता है तथा बदले में उसे कुछ Commission मिलता है, इसे ही affiliate मार्केटिंग कहते है।

Affiliate Commission अलग-अलग प्रोडक्ट पर अलग-अलग होता है।

Affiliate मार्केटिंग ऑनलाइन पैसा कमाने के सैकड़ों तरीकों में से एक तरीका है।

कोई भी कंपनी अपना Affiliate प्रोग्राम चला सकती है जैसे Software कंपनी, Online स्टोर (Amazon, Flipkart)

कंपनी अपनी sales बढ़ाने के लिए affiliate प्रोग्राम चलाती हैं।

जब कोई व्यक्ति उस कंपनी के प्रोडक्ट को प्रमोट करके sale करवाता है तो company उसे कुछ Commission देती हैं।

यह कंपनी तथा यूजर दोनों के लिए win-win सिचुएशन है।

आप किसी भी कंपनी का affiliate प्रोग्राम ज्वाइन कर सकते हैं इसके लिए आपको कोई पैसा नहीं देना पड़ता।

आप पार्ट टाइम और फुल टाइम यह काम कर सकते हैं।

कुछ कंपनी आपको एक ही अकाउंट के द्वारा पुरे वर्ल्ड में प्रोडक्ट बेचने का अवसर देती है। लेकिन कुछ affiliate प्रोग्राम में आपको अलग अलग देश में sale करने के लिए अलग अलग अकाउंट बनाना पड़ता है।

जैसे amazon एफिलिएट प्रोडक्ट को India, America, England, Australia आदि में प्रमोट करने के लिए आपको अलग अलग अकाउंट बनाना होगा।

इंडिया वाले एफिलिएट अकाउंट का लिंक सिर्फ इंडिया में ही काम करेगा। अगर कोई दूसरे देश का व्यक्ति उस लिंक के द्वारा प्रोडक्ट खरीदता है तो आपको उसका कमीशन नहीं मिलेगा।

अब मैं आपको बताऊंगा कि कैसे पता करें कि कौन सी कंपनी affiliate प्रोग्राम देती है और कौन सी कंपनी नहीं।

Affiliate प्रोग्राम वाली कंपनी कैसे पता करें

आपको पता है गूगल पर आपको हजारों, लाखों वेबसाइट मौजूद है। लेकिन उनमें से किस कंपनी का affiliate प्रोग्राम है और किस कंपनी का नहीं है यह कैसे पता करें।

पहली बात तो यह है कि affiliate प्रोग्राम ज्यादातर वही कंपनियां देती है जो कोई प्रोडक्ट बेचती है या कोई सर्विस देती है।

पहला तरीका तो यह है कि जिस कंपनी का आपको affiliate प्रोग्राम चेक करना हो उस कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं।

अगर वह कंपनी Affiliate प्रोग्राम देती है तो उस वेबसाइट के सबसे नीचे bottom में आपको Join affiliate program देखने को मिलेगा।

दूसरा तरीका है गूगल में उस कंपनी के नाम के आगे “Affiliate” वर्ड लिखकर सर्च करें।

अगर उस कंपनी का affiliate प्रोग्राम होगा तो गूगल में पहले या दूसरे नंबर पर ही आपको उसका लिंक मिल जाएगा।

जैसे Amazon Affiliate, फ्लिपकार्ट Affiliate, GoDaddy Affiliate आदि।

वहां से उस कंपनी के Affiliate प्रोग्राम पेज पर जाएं और उसकी पॉलिसी को ध्यान से पढ़ ले जैसे आपको कितना Commission मिलेगा, पेमेंट करने का तरीका क्या होगा तथा Minimum payout कितना कितना है।

अब आप समझ गए होंगे कि Affiliate मार्केटिंग क्या है । अब मैं आपको affiliate मार्केटिंग के बारे में बताता हूं कि यह काम कैसे करती है।

Affiliate मार्केटिंग कैसे काम करती है

चाहे कोई भी कंपनी हो affiliate मार्केटिंग एक ही तरीके से काम करती है।

Affiliate मार्केटिंग करने के लिए आपको सबसे पहले उस कंपनी के affiliate प्रोग्राम को ज्वाइन करना होगा।

आप जिस कंपनी के प्रोडक्ट को प्रमोट करना चाहते हैं उसी कंपनी का affiliate प्रोग्राम ज्वाइन करें।

Affiliate मार्कटिंग में सबसे जरूरी है कीवर्ड रिसर्च। अगर आपको कीवर्ड रिसर्च नहीं करना आता तो आप सही low competition वाले कीवर्ड को नहीं ढूंढ पाएंगे।

अब मैं आपको Amazon Affiliate मार्केटिंग क्या है यह उदाहरण देकर समझाऊंगा कि यह कैसे काम करता है।

Amazon Affiliate का अकाउंट खोलना बिल्कुल फ्री है। लेकिन एक शर्त है कि पहले 6 महीने में आपको कोई भी तीन प्रोडक्ट की sale करनी होगी वरना आपका अकाउंट सस्पेंड हो जाएगा।

1. Create Amazon Affiliate अकाउंट

1. सबसे पहले Amazon Affiliate प्रोग्राम में Sign up करें।

2. अकाउंट बनाने के लिए ईमेल ID तथा पासवर्ड डालना होगा।

3. Next स्टेप मैं आपको अपना Address City State Country आदि enter करना होगा।

4. Next स्टेप में आपको अपनी वेबसाइट की इंफॉर्मेशन डालनी है।

अगर आपके पास वेबसाइट नहीं है तो आप फ्री में वेबसाइट बना सकते हैं।

इसके अलावा आप अपने फेसबुक पेज का URL अथवा youtube चैनल का लिंक भी डाल सकते हैं।

वेबसाइट डिटेल को आप बाद में भी बदल भी सकते हैं Amazon आपके अकाउंट को तभी चेक करेगा जब आप 3 sales कंप्लीट कर लेते हैं।

उसके बाद ही Amazon आपके अकाउंट को रिव्यू करेगा और उसके बाद ही उसे approve या disapprove करेगा।

2. अपना Affiliate link generate करें

अकाउंट बनाने के बाद Amazon पर जितने भी प्रोडक्ट हैं उन सब का आप affiliate लिंक जनरेट कर सकते हैं।

प्रत्येक व्यक्ति का affiliate लिंक अलग-अलग होता है आप किसी दूसरे व्यक्ति का Affiliate लिंक प्रयोग में ना लें वरना Commission उस व्यक्ति को मिलेगा जिसका यह लिंक होगा आपको नहीं मिलेगा।

3. अपनी वेबसाइट में Affiliate लिंक Add करें।

जो भी अमेजन प्रोडक्ट आप अपनी वेबसाइट पर प्रमोट करना चाहते हैं उसके बारे में पहले एक रिव्यू आर्टिकल लिखें।

अपने आर्टिकल को गूगल में रैंक करवाने के लिए आपको SEO करना आना चाहिए।

उसके बाद आप अपने एफिलिएट लिंक को Buy On Amazon के बटन पर Add कर दें।

इस बटन पर क्लिक करके यूजर सीधा amazon की वेबसाइट पर पहुंच जाएगा।

Affiliate प्रोडक्ट को प्रमोट कैसे करें

अब आप सोच रहे होंगे कि अकाउंट भी बना लिया, वेबसाइट भी बना ली ,लेकिन अब इस पर ट्रैफिक कैसे लाया जाए क्योंकि अगर ट्रैफिक नहीं आएगा तो आपको कोई भी इनकम नहीं होने वाली।

मैं आपके साथ एक-एक करके वह सारे तरीके से शेयर करूंगा जिनसे आप Affiliate प्रोडक्ट को प्रमोट कर सकते हैं।

1. SEO के द्वारा

गूगल से ऑर्गेनिक ट्रैफिक लाने के लिए आपको SEO करना आना चाहिए SEO क्या है तथा 25 Advanced SEO tips का आपको पता होना चाहिए।

आपको अपने ब्लॉग का SEO करके गूगल से फ्री ट्रेफिक अपनी वेबसाइट या ब्लॉग पर ला सकते हैं।

2. Youtube चैनल के द्वारा

Amazon प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए आप अपना यूट्यूब चैनल भी बना सकते हैं।

यह जरूरी नहीं है कि amazon प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए आपके पास वेबसाइट होनी चाहिए आप यूट्यूब चैनल के द्वारा भी ऐसा कर सकते है।

आप अपने यूट्यूब चैनल में वीडियो के description में अपना affiliate लेट add कर सकते हैं।

3. Facebook पेज तथा ग्रुप के द्वारा

आप अपने ब्लॉग/वेबसाइट तथा यूट्यूब चैनल को फेसबुक पेज और ग्रुप द्वारा प्रमोट कर सकते हैं।

सबसे पहले फेसबुक पेज और ग्रुप बनाकर उस पर फॉलोअर्स की संख्या बढ़ाएं

उसके बाद अपने ब्लॉग के आर्टिकल उस पर शेयर कर सकते है।

लोग उस आर्टिकल पर क्लिक करके आपके ब्लॉग पर आएंगे जिससे आपके ब्लॉग का ट्रैफिक बढ़ेगा।

4. ईमेल मार्केटिंग के द्वारा

जब कोई यूजर आपके ब्लॉग पर आए तो आप ईमेल सब्सक्रिप्शन के द्वारा उसकी ईमेल आईडी ले सकते हैं।

जिससे यह फायदा होगा कि जब भी आप कोई नया आर्टिकल अपने ब्लॉग पर डालेंगे तो उनके पास ईमेल के द्वारा इसका लिंक सेंड कर सकते हैं।

अगर यूजर इसमें इंटरेस्टेड होगा तो वह इसे पढ़ सकता हैं पूरा आर्टिकल पढ़ने के लिए उसको आपके ब्लॉग पर आना होगा।

आर्टिकल पढ़ने के बाद वह आपके Affiliate लिंक के द्वारा अमेजन पर जाकर प्रोडक्ट खरीदते हैं तो आपको उसका Commission मिलेगा।

5. Whatsapp, Twitter, Instagram, LinkedIn के द्वारा

आप अपने ब्लॉग को Whatsapp, Twitter, Instagram, LinkedIn के द्वारा भी free में प्रमोट कर सकते हैं।

लेकिन इसके लिए आपके पास काफी संख्या में follower होने चाहिए।

6. Paid Advertisement के द्वारा

आप अपनी वेबसाइट या यूट्यूब वीडियो को पैसे देकर भी प्रमोट कर सकते हैं।

Paid Ads आप फेसबुक, इंस्टाग्राम, गूगल और यूट्यूब पर चला सकते हैं।

7. Quora, Pinterest के द्वारा

आप जिस प्रोडक्ट के बारे में review लिखते हैं उसे आप Quora, Pinterest पर free में अकाउंट बनाकर शेयर कर सकते हैं।

Quora एक question और answer की वेबसाइट है जिस पर दुनिया भर से मिलियन में ट्रैफिक आता है।

Affiliate प्रोग्राम से कितने पैसे कमा सकते हैं

यह एक ऐसा सवाल है जिसका जवाब हर कोई जानना चाहता है।

और इसका जवाब है।

कुछ कंपनियों के Affiliate प्रोग्राम में पैसे कमाने की कोई लिमिट नहीं होती है लेकिन कुछ में लिमिट होती है।

लेकिन Amazon कंपनी में कोई लिमिट नहीं है।

मतलब आप 1 महीने में हजारों, लाखों तथा करोड़ों में कमाई कर सकते हैं।

जैसा कि मैंने आपको बताया कि कुछ प्रोडक्ट पर Commission अधिक होता है तथा कुछ प्रोडक्ट कम Commission होता है।

कम sale करके भी आप अधिक पैसा कमा सकते हैं।

किस प्रोडक्ट पर कितना Commission मिलेगा यह तो उस कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट पर ही पता चलेगा।

उदाहरण के लिए Amazon Affiliate प्रोग्राम की कमीशन रेट इस प्रकार है।

amazon affiliate commission rates

Affiliate प्रोग्राम से जुड़े कुछ Trems

1. Affiliates

जो व्यक्ति किसी affiliate प्रोग्राम से जुड़कर किसी प्रोडक्ट को प्रमोट करता है तो वह Affiliates कहलाता है।

2. Affiliate ID

प्रत्येक व्यक्ति की Affiliate ID अलग-अलग होती है। Affiliate ID के द्वारा ही है पहचान होती है कि यह एफिलिएट लिंक किसका है। Affiliate लिंक में Affiliate ID भी जुड़ी होती है।

3. Affiliate लिंक

Affiliate प्रोग्राम जॉइन करने के बाद व्यक्ति किसी भी प्रोडक्ट का एफिलिएट लिंक जनरेट कर सकता है।

यह लिंक आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट में लगाना होता है। इस पर क्लिक करके यूज़र सीधा Amazon के उसी प्रोडक्ट पर पहुंच जाएगा जिस प्रोडक्ट का यह एफिलिएट लिंक है।

4. Commission

जब आप किसी प्रोडक्ट को प्रमोट करके sale करवाते हैं तो उसका आपको Commission मिलता है। प्रत्येक Affiliate प्रोग्राम का Commission अलग अलग होता है।

5. Payment Mode

पेमेंट लेने के तरीके का पेमेंट मोड कहा जाता है।

अलग-अलग कंपनी का पेमेंट मोड अलग-अलग होता है।

जैसे कोई चेक के द्वारा पेमेंट करता है, कोई सीधे बैंक में ट्रांसफर करता है, तो कोई paypal के द्वारा पेमेंट करता है।

6. Payment Threshold

हर महीने व्यक्ति को उसका पेमेंट मिलता है तो उसकी कुछ शर्तें होती हैं

आपके खाते में पैसे तभी ट्रांसफर किए जाते हैं जब आप एक मिनिमम अमाउंट कमा लेते हैं यह मिनिमम अमाउंट कंपनी निर्धारित करती है इसे ही Payment Threshold कहा जाता है।

हर कंपनी का Payment Threshold अलग-अलग होता है।

Amazon का पेमेंट थ्रेसोल्ड एक हजार रुपए है मतलब पैसा आपके अकाउंट में तभी ट्रांसफर होगा जब आप 1 महीने में कम से कम हजार रुपए कमायेंगे।

निष्कर्ष

Affiliate मार्केटिंग क्या है इस आर्टिकल में आपने जाना कि सभी कंपनियों की affiliate मार्केटिंग एक जैसी ही होती है।

एफिलिएट प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए आपके पास खुद का ब्लॉग/वेबसाइट या youtube चैनल होना चाहिए। इनके बिना आप एफिलिएट मार्केटिंग को प्रमोट नहीं कर सकते। आप free में भी वेबसाइट/ब्लॉग बना सकते है।

प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए आपको उसका रिव्यु लिखना पड़ता है जिसके लिए आपको प्रोडक्ट की फोटो तथा इनफार्मेशन आपको affiliate वेबसाइट पर मिल जाती है।

Affiliate ब्लॉग आप किसी भी भाषा में बना सकते है लेकिन जहां तक हो सके English लैंग्वेज में ही बनाना चाहिए क्योकि english रिव्यु ब्लॉग पर यूजर को भरोसा होता है कि यह सही जानकारी है

उम्मीद करता हूँ कि आपको Affiliate मार्केटिंग क्या है यह समझ आ गया होगा।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook
error: Content is protected !!