Parts of computer in hindi – 21 Parts फोटो सहित जानकारी

Parts of computer in hindi : कंप्यूटर बहुत सारे पार्ट्स से मिलकर बना होता है जो मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं सोफ्टवेयर तथा हार्डवेयर।

कंप्यूटर के जिन पार्ट्स को हम अपने हाथों से छू सकते हैं हार्डवेयर कहलाते हैं। तथा कंप्यूटर के जिन पार्ट को हम अपने हाथों से छू नहीं सकते सॉफ्टवेयर कहलाते हैं।

कार्य करने के आधार पर कंप्यूटर को 15 प्रकार में बांटा गया है। लेकिन कंप्यूटर के पार्ट्स उन सभी कंप्यूटरों में लगभग समान ही होते हैं।

कंप्यूटर के सभी पार्ट्स ऑपरेटिंग सिस्टम से जुड़े होते है ऑपरेटिंग सिस्टम के बिना कंप्यूटर चालू भी नही हो सकता। इसलिए आपको पता होना चाहिए कि ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है और कितने प्रकार के होते है

Parts of computer in hindi

अब मैं आपको Parts of computer in hindi के बारे में विस्तृत जानकारी देने जा रहा हूं।

(A) Input Devices

प्रत्येक कंप्यूटर यूजर द्वारा दिए गए इनपुट के आधार पर ही कार्य करता है।

कंप्यूटर को इनपुट देने के लिए बहुत प्रकार की डिवाइस होती हैं। कीबोर्ड के द्वारा हम कंप्यूटर पर कुछ भी टाइप कर सकते हैं।

एक कीबोर्ड के अंदर 100 से अधिक keys होती हैं।

किसी भी कंप्यूटर में इनपुट डिवाइस तभी काम करेंगी जब कंप्यूटर में सॉफ्टवेर इनस्टॉल होगा प्रत्येक इनपुट डिवाइस के लिए अलग अलग सॉफ्टवेर कि जरुरत होती है।

1. Mouse

Mouse
Mouse

माउस एक cursor को कंट्रोल करता है जिसके द्वारा हम कंप्यूटर में इनपुट देते हैं।

जिसकी मदद से हम किसी भी फोल्डर को ओपन, कॉपी, पेस्ट और डिलीट कर सकते हैं।

2. Scanner

स्केनर डॉक्यूमेंट को स्कैन करने के काम आता है। स्कैन किए गए डॉक्यूमेंट की image, PDF फाइल भी बना सकते हैं।

ऑनलाइन फॉर्म भरते समय फोटो तथा अन्य डॉक्यूमेंट को अपलोड करने से पहले scan करना पड़ता है। 

स्कैन किये गए डॉक्यूमेंट को आप ईमेल तथा अन्य सोशल मीडिया पलटफोर्म के द्वारा कही भी भेज सकते है।

3. Joy Stick

Joy Stick

Joy Stick कंप्यूटर में cursor कण्ट्रोल डिवाइस है जिसका इस्तेमाल कंप्यूटर में मुख्य रुप से गेम खेलने में होता है।

Joy Stick इस्तेमाल हेलीकाप्टर तथा एयरोप्लेन में पायलट के द्वारा भी किया जाता है।

4. Touch Screen

touch screen
touch screen mobile

वर्तमान में कंप्यूटर तथा मोबाइल टच स्क्रीन वाले आते हैं जिन पर हम अपनी उंगलियों के द्वारा काम कर सकते हैं।

टच स्क्रीन की मदद से हम किसी भी कार्य को कम समय में कर सकते है।

पुराने ज़माने में टच स्क्रीन मोबाइल के साथ Joy Stick आती थी वह हाथो की अंगुलियों के साथ काम नहीं करता था।

5. Web Cam

web-cam
web-cam

वेब कैमरा का प्रयोग वीडियो कॉल तथा वीडियो बनाने में किया जाता है।

लैपटॉप के अंदर आजकल web cam inbuilt आता है। 

डेस्कटॉप कंप्यूटर में Web cam अलग से खरीदना पड़ता है।

Web Cam भी अलग अलग क्वालिटी के आते है।

6. Microphone

Microphone
Microphone

माइक्रोफोन के द्वारा कंप्यूटर को ऑडियो इनपुट दिया जाता है।

गाने रिकॉर्ड करने के लिए तथा नेताओं की रैलियों में माइक्रोफोन का ही इस्तेमाल किया जाता है।

अच्छी क्वालिटी के माइक्रोफोन बहुत महंगे आते है।

आजकल छोटे तथा सस्ते माइक्रोफोन भी आते है जिनका इस्तेमाल यूट्यूब वीडियो बनाने में किया जाता है।

(B) Output Devices

1. Monitor

monitor
monitor

कंप्यूटर पर लगी टीवी जैसी स्क्रीन को ही मॉनिटर कहते हैं।

कंप्यूटर पर कार्य मॉनिटर के द्वारा ही किया जाता है।

मॉनिटर नहीं होगा तो कंप्यूटर को इनपुट नहीं दे पाएंगे तथा कंप्यूटर के आउटपुट को भी नहीं देख पायेंगे।

2. Printer

printer
printer

प्रिंटर के द्वारा हम किसी भी डॉक्यूमेंट या फोटो को कागज पर प्रिंट कर सकते हैं।

प्रिंटर कई प्रकार के होते है।

छोटे पेपर से लेकर बड़े बड़े पोस्टर सभी अलग अलग प्रकार के प्रिंटर के द्वारा प्रिंट किये जाते है।

कुछ प्रिंटर में स्याही का प्रयोग होता है तथा कुछ में लेजर के द्वारा प्रिंट किया जाता है।

3. Speaker

speaker
speaker

स्पीकर के द्वारा हमें ऑडियो आउटपुट सुनाई देता है।

फिल्मों के गानों, सीरियल की ऑडियो को स्पीकर के द्वारा ही सुना जा सकता है।

स्पीकर भी कई आकर के आते है।

4. Projector

projector
projector

प्रोजेक्टर का कार्य वीडियो को बड़े पर्दे पर दिखाना होता है।

सिनेमा हॉल में फिल्म प्रोजेक्टर के द्वारा ही दिखाई जाती है।

प्रोजेक्टर का प्रयोग ऑफिस में प्रेजेंटेशन देने में भी किया जाता है।

प्रोजेक्टर काफी महंगे होते है।

प्रोजेक्टर के लिए एक सफ़ेद कपडा भी होना चाहिए यह पर्दा स्क्रीन की तरह कार्य करता है।

5. Plotter

plotter भी एक तरह का प्रिंटर ही होता है प्रिंटर कई प्रकार के होते हैं।

बड़े बड़े पोस्टर प्लॉटर के द्वारा ही प्रिंट किये जाते है।

(C) Storage Devices

स्टोरेज डिवाइस के द्वारा कंप्यूटर में डाटा को स्टोर किया जाता है।

साधारण भाषा में इन्हें मेमोरी भी कहा जाता है।

स्टोरेज डिवाइस कई प्रकार की होती हैं। अब हम स्टोरेज device के Parts of computer in hindi के बारे में जानेंगे।

1. Hard Disk

hard disk
hard disk

हार्ड डिस्क कंप्यूटर के अंदर लगी होती है।

यह अलग-अलग कैपेसिटी की होती है जैसे 500GB, 1TB आदि।

अगर आपका कंप्यूटर ख़राब हो गया हो तो भी हार्ड डिस्क ख़राब नहीं होती है।

हार्ड डिस्क तभी ख़राब होती है जब वह क्रैक हो जाती है कई बार तो हार्ड डिस्क क्रैक होने के बाद भी डाटा को रिकवर किया जा सकता है।

2. Floppy Disk

floppy disk
floppy disk

फ्लॉपी डिस्क पुराने जमाने में काम में ली जाती थी।

इसे कंप्यूटर में इंसर्ट किया जाता है तथा बाहर निकाला जा सकता है।

यह भी डाटा स्टोर करने के काम में ली जाती है।

3. CD और DVD

CD
CD और DVD

सीडी और डीवीडी मार्केट में खाली और पहले से स्टोर डाटा वाली भी मिलती है।

पुराने जमाने में इनका इस्तेमाल फिल्में देखने, गाने सुनने, शादियों की वीडियो स्टोर करने में किया जाता है।

CD और DVD में डाटा को स्टोर करने के बाद लॉक भी किया जा सकता है जिसके बाद उस डाटा को ना तो डिलीट कर सकते है और ना ही edit कर सकते है।

4. Pen Drive

pen drive
pen drive

Pen Drive सेकेंडरी मेमोरी है।

जिसे कंप्यूटर से अलग किया जा सकता है।

पेनड्राइव अलग-अलग कैपेसिटी की होती है जैसे 8GB, 16GB, 32GB आदि।

(D) Processing Devices

1. Mother Board

mother board
mother board

मदरबोर्ड पर बहुत सारे सर्किट को लगाया जाता है।

किसी भी कंप्यूटर का मुख्य पार्ट मदरबोर्ड ही होता है।

कंप्यूटर के मुख्य हार्डवेयर के पार्ट्स मदर बोर्ड पर ही लगे होते है जैसे ट्रांजिस्टर, डायोड, मैमोरी आदि।  

2. Micro Processor

micro processor
micro processor

किसी भी कंप्यूटर की कार्य करने की क्षमता माइक्रो प्रोसेसर पर निर्भर करती है।

सुपर कंप्यूटर में लाखों की संख्या में माइक्रोप्रोसेसर होते हैं।

3. Graphic card

बेहतर स्क्रीन रेजोल्यूशन के लिए ग्राफिक कार्ड का प्रयोग किया जाता है।

कंप्यूटर पर अच्छी क्वालिटी के गेम्स खेलने के लिए अच्छे ग्राफ़िक कार्ड की जरुरत होती है।

4. RAM

RAM का मतलब रेंडम एक्सेस मेमोरी होता है।

यह कंप्यूटर की प्राइमरी मेमोरी है।

RAM जितनी अधिक होगी उस कंप्यूटर के टास्क परफॉर्म करने की क्षमता भी उतनी ही अधिक होगी।

5. ROM

रोम का मतलब “रीड ओनली मेमोरी” होता है।

सभी प्रकार का डाटा इसी मेमोरी में स्टोर किया जाता है जैसे Movie, Song PDF फाइल आदि।

6. Modem

modem
Modem

मॉडेम के द्वारा कंप्यूटर में इंटरनेट कनेक्ट कर सकते हैं।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में मैंने आपको Parts of computer in hindi के बारे विस्तार से जानकारी दी है।

बाहर से कंप्यूटर दिखने में भले ही छोटा सा लगता है लेकिन यह बहुत सारे पार्ट्स से मिलकर बना होता है।

कंप्यूटर क्या है What is computer in hindi

कंप्यूटर कीबोर्ड के बारे में सम्पूर्ण जानकारी

सॉफ्टवेयर क्या होता है

CPU क्या होता है और कैसे काम करता है

हार्डवेयर क्या है What is hardware in hindi

सुपर कंप्यूटर क्या होता है और कैसे काम करता है

कंप्यूटर के क्या क्या उपयोग है – 10 क्षेत्रों में कंप्यूटर के उपयोग

कंप्यूटर कितने प्रकार के होते है

हाइब्रिड कंप्यूटर क्या होता है हाइब्रिड के प्रकार

Share

2 thoughts on “Parts of computer in hindi – 21 Parts फोटो सहित जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook